श्यामदेव एवं प्रेमलता को सर्वश्रेष्ठ धावक-धाविका का खिताब

जागरणसंवाददाता,गोड्डा:स्वतंत्रतादिवसकी75वींवर्षगांठकेउपलक्ष्यपरदेशभरमेंमनाएजारहेअमृतमहोत्सवकेतहतगोड्डामेंबालकबालिकाओंकीदौड़प्रतियोगिताकासफलआयोजनरविवारकोसम्पन्नहुआ।आयोजनकेदौरानगोड्डारेलवेस्टेशनमोड़सेप्लसटूउच्चविद्यालयतकबालकवर्गकेलिएदौड़प्रतियोगिताकाआयोजनहुआ।जिसमेंस्थानीयगंगटाखुर्दकेधावकश्यामदेवचौड़ेऔरविद्यानंदचौड़ेनेअपनादबदबाबरकराररखतेहुएपहलाऔरदूसरास्थानपाया।जबकिकौआढाबकेसंतोषठाकुरतीसरेस्थानपररहे।

दूसरीओररामनगरमुहल्लाकेकालीमंदिरसेप्लसटूउच्चविद्यालयतकआयोजितबालिकाओंकीतेजपैदलचालप्रतियोगितामेंकस्तूरबापथरगामाकीछात्राप्रेमलतामुर्मूविजेताबनी।वहींकस्तूरबाठाकुरगंगटीकीजूलीकुमारीदूसरेस्थानपररहीवकस्तूरबागोड्डाकीसुशीलाकुमारीतीसरेस्थानपररही।प्लसटूउच्चविद्यालयमेंआयोजितपुरस्कारवितरणसमारोहमेंजिलाखेलपदाधिकारीराहुलकुमारएवंविद्यालयकेप्राचार्यपरितोषपाठकनेमेडलऔरउपहारदेकरपुरस्कृतकिया।मंचसंचालनजिलाकुश्तीसंघकेसचिवसुरजीतझानेकिया।सफलआयोजनमेंजिलावॉलीबालसंघकेसचिवदेवाशीषकुमारझा,राष्ट्रीयस्वर्णपदकधावकपुनीतसिंह,कबड्डीसंघसचिवशक्तिकुमार,सेपकटाकरासंघसचिवप्रियव्रतपरमेश,प्रसिद्धफुटबॉलरेफरीसंतोषकुमारनिरालाएवंदिव्यांगक्रिकेटसंघसचिवशिवेंद्रझाकेअलावाप्लसटूविद्यालयपरिवारएवंआवासीयवॉलीबालप्रशिक्षणकेंद्रकेबालिकाओंकीभूमिकावयोगदानसराहनीयरहा।प्राचार्यपाठकनेकहाकिजीवनमेखेलकूदकीमहत्ताबड़ीहै।स्वस्थशरीरसेहीस्वस्थसमाजऔरप्रगतिशीलदेशकानिर्माणहोताहै।कहाकिकोरोनाकीदूसरीलहरसेबचनेकीजरूरतहै।जिलाखेलपदाधिकारीराहुलकुमारनेकहाकिहमखेलजगतसेजुड़ेलोगोंकोदेशकीआजादीमेंअपनासर्वस्वन्यौछावरकरनेवालेमहानसपूतोंकेबलिदानकोयादकरनेसाथ-साथउनकेसपनोंकाभारतबनानेकासंकल्पलेनेकाभीअवसरहै।