सीएनडी को 75 साल में विधायक से नहीं मिला एक रुपया

बांका।अमरपुरविधायकसहस्थानीयनिवासीजनार्दनमांझीकीशिक्षासीएनडीस्कूलमेंहुईहै।वेअपनेपैतृकगांवसिंहेश्वरीसे1954मेंपांचकिलोमीटरपैदलचलकरसीएनडीस्कूलबौंसीआतेथे।

सीएनडीकेछात्ररहकरविधायकबनेजनार्दनमांझीपहलेजिलापार्षदबने।इसकेबादतीनबारलगातारविधायकबने।इसदौरानविधायकजीकाकाफीविकासहुआ,लेकिनउन्होंनेकभीमुड़करअपनेविद्यालयकोनहींदेखा।1945मेंसीएनडीकीस्थापनाकेबादसेहीआजतककिसीविधायकयासांसदकाएकरुपयास्कूलविकासकोनसीबनहींहोसकाहै।विद्यालयविकासकीराशिसेएकहॉलकानिर्माणकईवर्षोंसेअधूराहै।लापरवाहीकाआलमयहहैकिप्रबंधसमितिकीबैठकगठनकेबाददोसालसेनहींहुई।मौजूदाविधायकस्वीटीसीमाहेंब्रमनेप्रबंधसमितिगठनकेबादकभीबैठकनहींबुलाईहै।इसकारणविकासराशिसेकोईविकासकार्यहोरहाहै।स्कूलकीव्यवस्थाकापताइसीसेचलताहैकिस्कूलमें12सौछात्रोंकीपढ़ाईकेलिएकेवलदोसौडेस्कबेंचउपलब्धहै।

हाईस्कूलकोप्लसटूकीमान्यता2014मेंहीमिलगई।लेकिनआजतकस्कूलभवनकानिर्माणशुरूनहींहुआ।स्कूलमेंशिक्षकोंकाभीअभावहै।2015सेहीमाध्यमिककक्षाकेलिएअंग्रेजी,हिदीऔरसंस्कृतशिक्षककीजगहखालीहै।विद्यालयमेंक्लासरूमकाभीघोरअभावहै।12सौछात्रोंकीपढ़ाईकेलिएसातकमराहै।कमसेकमछहकमरेकीऔरआवश्यकताहै।प्रयोगशालाकानिर्माणभीसालभरसेपेंडिगहै।इसविद्यालयमेंदोबारचोरीकीघटनाभीहोचुकीहै।जिसमेंकंप्यूटरसीपीयूएवंपंखाकीचोरीहोगई।विद्यालयपरिसरकीचाहरदीवारीकीस्थितिजर्जरहोनेकेकारणजगह-जगहटूटजानेकेकारणअसामाजिकतत्वोंकाभीजमावड़ालगारहताहै।

सीएनडीकेछात्ररहेविधायकजनार्दनमांझीकहतेहैंकिविद्यालयमेरेक्षेत्रमेंनहींहै।इसकारणअपनाविकासराशिइसेउपलब्धनहींकरासकतेहैं।विद्यालयकीस्थितिसेअवगतहोनेकेबादमुख्यमंत्रीकेसमक्षस्कूलकीव्यवस्थाकोसु²ढ़करनेकेलिएप्रयासकरेंगे।उन्होंनेबतायाकिअपनेगांवसिघेश्वरीमें1965मेंविद्यालयकीस्थापनाकेबाद2017मेंमुख्यमंत्रीकेआनेपरउसेहाईस्कूलमेंपरिवर्तितकराया।जबकिक्षेत्रकीविधायकस्वीटीसीमाहेंब्रमनेइसपरकुछबोलनेसेइन्कारकिया।

सीएनडीस्कूलकेप्रधानाचार्यअरविदकुमारसिंहनेबतायाकिप्रबंधसमितिकीबैठकनहींहोनेसेविकासकाकुछजरूरीकामनहींहुआहै।विद्यालयविकासकोषकीराशिविधायककीअनुमतिपरहीखर्चकियाजानाहै।प्रबंधसमितिगठनकेबादविधायकविद्यालयनहींआईहै।