समय-समय पर आंखों की जांच जरूरी

संवादसूत्र,श्रीमुक्तसरसाहिब

ग्लूकोमायाकालामोतियाकिसीभीउम्रकेव्यक्तिकोहोसकताहैइसलिएआंखोंकीलगातारजांचकरवातेरहनीचाहिएजिससेरोगकासमयसिरपतालगसकेऔरउपयुक्तइलाजहोसके।सीएचसीचक्कशेरेवालाकेसीनियरमेडिकलअफसरडा.कुलतारसिंहनेग्लूकोमासंबंधीहुईवर्कशापकोसंबोधनकरतेबताया।उन्होंनेकहाकिसेहतविभागऔरसिविलसर्जनडा.रंजूसिगलाकेदिशानिर्देशोंमेंब्लाकमेंजागरूकतागतिविधियोंकरवाईजारहीहैं।

उन्होंनेकहाकिहमारीआंखगुबारेजैसीहोतीहै,जिसअंदरतरलपदार्थभराहोताहै।आंखोंकायहतरलपदार्थलगातारआंखोंअंदरबनतारहताहैऔरबाहरनिकलतारहताहै।तरलपदार्थकेपैदाहोनेऔरबाहरनिकलनेकीप्रक्रियामेंजबकभीदिक्कतआतीहैतोआंखोंमेंदबावबढ़जाताहै।आंखोंमेंकोशिकाएंभीहोतीहैं,जोकिसीवस्तुबारेसंकेतदिमागकोभेजतीहैं।आंखोंपरबढ़ादबावइनकोशिकाओंकोनुक्सानपहुंचातेहैऔरआंखोंकीरौशनीधीरे-धीरेकमजोरहोनेलगतीहै।यहीकालेमोतिएकेलक्षणहोसकतेहैं।उन्होंनेकहाकिअगरआंखेंभारीभारीलगनेपूरेदिनकेकामबादमेंआंखयासिरमेंदर्दहो,आंखेलालरहनेपरऐनककानंबरबार-बारबदलनापड़ेतोयहग्लूकोमायाकालेमोतिएकेलक्षणहोसकतेहैं।ऐसाहोनेपरतुरंतआंखोंकीजांचकरवाईजाए।

बीईईमनबीरसिंहनेबतायाकिग्लूकोमाकेइलाजकेलिएदवाओंकाप्रयोगकीजातीहै,अगरदवाएंकारगरनहोनेतोआंखोंमेंबढ़ेहुएदबावकोघटानेकेलिएलेजरयाआपरेशनभीकरनापड़सकताहै।आंखोंकीजांचकरवानेपरहीकालेमोतिएकापतालगसकताहै।उन्होंनेबतायाकिसभीसरकारीसेहतसंस्थायोंमेंइसबीमारीकीजांचऔरइलाजमुफ्तकियाजाताहै।वर्कशापमेंएसआइपरमजीतसिंह,सोहनलाल,ओरस्टाफआदिमौजूदथे।