संविधान की प्रस्तावना एवं मौलिक कर्तव्यों की दी गई जानकारी

संवादसहयोगी,रामगढ़:श्रीकृष्णविद्यामंदिरमेंमंगलवारकोधूमधामकेसाथसंविधानदिवसमनायागया।इसअवसरपरविद्यालयमेंअध्ययनरतसभीछात्र-छात्राओंवविद्यालयमेंकार्यरतसभीशिक्षकएवंगैरशिक्षककर्मचारियोंनेसंविधानकीप्रस्तावनाकासम्मिलितरूपसेपाठनकिया।साथहीबच्चोंसहितशिक्षकोंनेशपथलिया।समारोहकेद्वाराबच्चोंकोसंविधानकीप्रस्तावनाएवंमौलिककर्तव्योंकीजानकारीदीगई।शिक्षकोंनेबच्चोंकोकहाकि26नवंबर1949कोस्वतंत्रभारतनेअपनेसंविधानकोअपनाया।भारतसरकारने19नवंबर2015कोराजपत्रअधिसूचनाकेद्वारा26नवंबरकोसंविधानदिवसकेरूपमेंघोषितकिया।कहाकिसंविधानदिवसमनानेकामुख्यमकसदनागरिकोंकोसंविधानकेप्रतिजागरूककरनातथासमाजमेंसंविधानकेमहत्वकाप्रसारकरनाएवंनागरिकोंकोप्रस्तावनावमौलिककर्तव्योंकीजानकारीदेनाहै।इसमौकेपरविद्यालयकेप्राचार्यजॉर्जमाइकलनिस,विद्यालयप्रशासकएसपीसिन्हासहितबड़ीसंख्यामेंशिक्षकगणवबच्चेमौजूदथे।