सफलता के लिए लक्ष्य ऊंचा रखें

जमुई।दैनिकजागरणवजिलेटगार्डकेसंयुक्ततत्वावधानमेंगुरुवारकोझाझाकेडीएसएमकॉलेजमेंसफलताआपकीमुट्ठीमेंकार्यक्रमकाआयोजनकियागया।संस्थानकेलगभगसैकड़ोंछात्र-छात्राओंनेभागलेकरजीवनजीनेकेलक्ष्यकीप्राप्तिकैसेहोतीहै,इसकोजाना।

पर्सनालिटीडेवलपमेंटएवंग्रूमिगविषयपरआयोजितकार्यशालामेंप्राचार्यसुमनकुमारसिंहनेछात्र-छात्राओंकोपर्सनालिटीडेवलपमेंटऔरग्रूमिगकीजानकारीदी।उन्होंनेछात्र-छात्राओंकोखुदसेव्यक्तित्वकाविकासकरनेपरबलदिया।पढ़ाई-लिखाईकेसाथअनुशासनतथारहन-सहनकाभीतरीकाभीबताया।किसीबड़ेसाक्षात्कारमेंजानेकाअनुशासनकापाठपठाया।उन्होंनेकहाकिपठन-पाठनहीसबकुछनहींहै।प्रतियोगिताकेइसदौरमेंहमव्यक्तित्वकेविकासकेजरियेहीखुदकोबेहतरनौकरीकेलिएतैयारकरसकतेहैं।शारीरिकभाषाएवंचेहरेपरआनेवालेभाव,हेयरस्टाइलतथाहाजिरजवाबीजरूरीहै।उन्होंनेछात्र-छात्राओंसेकहाकिप्रकृतिनेप्रत्येकव्यक्तिकोअलग-अलगप्रतिभादेकरभेजाहै।यहहमारेऊपरनिर्भरकरताहैकिहमउसकाकितनाविकासकरतेहैं।सफलताहासिलकरनेकेलिएलक्ष्यकोऊंचारखनेपरबलदिया।उन्होंनेकभीभीकिसीभीभीषणपरिस्थितियोंमेंघबराहटसेबचनेकीअपीलकी।जीवनमेंसफलताहासिलकरनीहोतोआत्मविश्वासऔरमेहनतसबसेबड़ीपूंजीहै।मेहनतऔरआत्मविश्वासव्यक्तित्व,हुनरवविकासएवंज्ञानकेबूतेतमामप्रतियोगितामेंसफलताहासिलकीजासकतीहै।मौकेपरप्राध्यापक,कर्मीसमेतछात्र-छात्राएंमौजूदथे।