स्वाधीनता में बलिदानियों का रहा महत्वपूर्ण योगदान

सिद्धार्थनगर:सीओसदरप्रदीपकुमारयादवनेशनिवारकोसरस्वतीविद्यामंदिरइंटरकालेजमेंकहाकिस्वाधीनताप्राप्तकरनेमेंबलिदानियोंकेयोगदानकोनहींभूलाजासकताहै।इनकेबलिदानकेबदौलतहीआजहमस्वतंत्रहैं।हमेंबलिदानियोंकेबताएआदर्शवमार्गपरचलनेकासंकल्पलेनाहोगा।तभीसपनोंकाभारतबनायाजासकताहै।स्वतंत्रताकी75वींवर्षगांठपरसंचालितअमृतमहोत्सवकार्यक्रमस्वावलंबनकीदिशामेंउठायागयामहत्वपूर्णकदमहै।

वहविद्यालयकीओरसेसंचालितअमृतमहोत्सवकेसमापनपरवंदेमातरमकार्यक्रमकीअध्यक्षताकररहेथे।एसओसदरतहसीलदारसिंहनेकहागुलामीकीबेड़ियोंसेदेशकोस्वतंत्रकरानेकीलड़ाईकबशुरूहुई,इसेबतानाकठिनहै।लेकिनगोस्वामीतुलसीदासनेकालजयीरचनारामचरितमानसमेंभीकहाहैकिपराधीनव्यक्तिकोस्वप्नमेंभीसुखनहींमिलताहै।संतोंनेस्वाभिमानकीचिगारीपैदाकरनेकाकामकिया।यहआगेचलकरस्वतंत्रतावस्वराज्यकीमशालबनकरउभरी।आजादीप्राप्तकरनेकेबादअबदेशस्वावलंबनकीराहपरअग्रसरहै।संचालनप्रधानाचार्यराकेशमणित्रिपाठीवनगरबौद्धिकप्रमुखअनूपकुमारपाठकनेकिया।आरएसएसकेविभागप्रचारकतुलसीराम,जिलाकार्यवाहशिवेंद्रसिंह,नगरकार्यवाहओंकारनाथपांडेय,विनय,हरीशचंद्रअग्रहरि,अध्यक्षनगरपालिकाश्यामबिहारीजायसवाल,अंजूचौहान,चंद्रभानपहलवान,रामनारायणआदिमौजूदरहे।अमृतमहोत्सवपरबर्डपुरमेंछात्रवछात्राओंनेतिरंगायात्रानिकाली।आदर्शलघुमाध्यमिकविद्यालय,बुद्धविद्यापीठइंटरकालेज,स्वामीविवेकानंदविद्यालय,नवज्योतिसिद्धार्थविद्यालयकेछात्रोंनेबीआरसीपरिसरसेमुख्यचौक,बुद्धतिराहाकपिलवस्तुमोड़तकगए।यहांसेवापसजूनियरहाईस्कूलआए।विभागकार्यवाहहरीशचंद्रअग्रहरि,शंभूनाथ,राजकुमारीपांडेय,एसओमोहनाजयप्रकाशदुबे,विशंभरपांडेय,नितेशपांडेय,प्रभारीशुद्धोधनपुलिसचौकीधर्मेंद्रयादव,विनोदजयसवाल,आनंदचौधरी,राजकमलजायसवाल,अमितजायसवालआदिमौजूदरहे।