स्वास्थ्य को विकास से जोड़ने की शुरूआत प्रधानमंत्री मोदी ने की : मांडविया

जयपुर,30सितंबर(भाषा)केंद्रीयस्वास्थ्यमंत्रीमनसुखमांडवियानेजन-स्वास्थ्यकोदेशकेविकासकेलिएमहत्वपूर्णबतातेहुएबृहस्पतिवारकोकहाकिस्वास्थ्यकोविकाससेजोड़नेकीशुरूआतप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेकी।उन्होंनेकहा,‘‘पहलेकेसालोंमेंचिकित्साक्षेत्रकोस्वास्थ्यसेनहींजोड़ागया,स्वास्थ्यकोविकाससेनहींजोड़ागया।स्वास्थ्यकोविकाससेजोड़नेकीशुरूआतमोदीनेगुजरातमेंमुख्यमंत्रीकेरूपमेंकीथी।'’मांडवियाराजस्थानमेंचारनएमेडिकलकॉलेजकीआधारशिलारखनेकेलिएआयोजितकार्यक्रमकोऑनलाइनसंबोधितकररहेथे।उन्होंनेकहा,‘‘स्वास्थ्यकेक्षेत्रमेंजोबदलावहोरहाहैवहदेशकोआगेबढ़ानेकेलिए,देशकीप्रगतिकेलिएहै।जैसाकिमैंनेशुरूमेंकहा,स्वास्थ्यकोविकाससेजोड़नाबहुतबड़ीबातहै,यहप्रधानमंत्रीमोदीकीबड़ीकल्पना,बड़ाविचारहै।'मांडवियानेकहा,‘‘जबदेशकेनागरिकस्वस्थनहींहोतेतबसमाजस्वस्थनहींहोता,औरजबसमाजस्वस्थनहींहोतातबराष्ट्रस्वस्थनहींहोसकता।यहसोचआजसे20सालपहलेगुजरातमेंमाअमृतमयोजनाकेजरिएशुरूकीगईथीऔरइसकाफलदेशकेनागरिकोंकोमिलरहाहै।’’मांडवियानेकहाकिदेशभरमेंआज40सेअधिकपेट्रोरसायनप्रौद्योगिकीसंस्थान(सिपेट)आत्मनिर्भरहैं,वेअपनीआयुखुदअर्जितकरतेहैंऔरएकसालमेंएकलाखविद्यार्थियोंकोअलगअलगअवधिकीशिक्षादेतेहैं।उनमेंसे95प्रतिशतलोगोंकोरोजगारमिलजाताहै।प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेबृहस्पतिवारकोराजस्थानकेबांसवाड़ा,सिरोही,हनुमानगढ़औरदौसाजिलोंमेंचारनएमेडिकलकॉलेजकीआधारशिला,वीडियोकान्फ्रेंसकेमाध्यमसेरखी।इसकेसाथहीमोदीनेवीडियोकॉन्फ्रेंसकेमाध्यमसेसिपेट(सीआईपीईटी):पेट्रोरसायनप्रौद्योगिकीसंस्थान,जयपुरकाउद्घाटनभीकिया।