टोक्यो ओलिंपिक में भारतीय पुरुष हॉकी के कांस्य पदक जीतने पर झारखंड के खिलाड़ियों में खुशी का माहौल

रांची[संजीवरंजन]।टोक्योओलिंपिकमेंभारतीयपुरुषहॉकीटीमकेशानदारप्रदर्शनसेझारखंडमेंभीउल्लासकामाहौलहै।झारखंडखिलाड़ियोंकामाननाहैइसजीतसेझारखंडमेंहॉकीकाविकासऔरतेजीसेहोगा।अबयहांकेबच्चेकेहाथोंमेंक्रिकेटकाबल्लाहीनहींहॉकीकास्टिकभीहोगा।पिछले40सालसेपदकोकाजोसूखाथाउससेहॉकीकेविकासकीजोगतिहोनीचाहिएथीवहनहींहोपाई।लेकिनइसजीतसेहॉकीएकबारफिरसेअपनेपुरानेमुकामतकपहुंचेगी।

किसीभीखेलकेविकासमेंइसतरहकीजीतयुवाओंकोकाफीआकर्षितकरतीहै।जस्ता1983केविश्वकपकेबादभारतमेंक्रिकेटकीदशाऔरदिशाबदलीहैठीकउसीतरहटोक्योओलिंपिककाअकाशपदकयहांकेहॉकीकीदिशाऔरदशामेंबदलावकरेगा।पूर्वओलंपियनमनोहरटोपनोनेभारतीयजीतकोयादगारबतातेहुएकहाकियहजीतझारखंडकीहॉकीकेलिएभीमीलकापत्थरसाबितहोगा।युवाओंकीजोरुचिइसखेलकेप्रतिकमहुईथीवहबढ़ेगीऔरनेप्रतिभासामनेआएंगे।महिलाहॉकीमेंतोहमलोगोंनेहमेशाशानदारप्रदर्शनकियाहैलेकिनपुरुषहॉकीमेंहमारीटीमअपेक्षाअनुरूपप्रदर्शननहींकरनाकरपातीरहीहै।लेकिनयहजीतपुरुषहॉकीकेविकासमेंभीअहमभूमिकानिभाएगा।

पूर्वअंतरराष्ट्रीयहॉकीखिलाड़ीविमललकड़ानेकहाहॉकीकेविकासकेलिएयहजीतबहुतहीआवश्यकहै।इसजीतसेनासिकयुवाखिलाड़ियोंकाउत्साहबढ़ेगाबल्किराजसरकारभीखेलऔरखिलाड़ियोंकेविकासकेलिएअन्यसुविधाएंउपलब्धकराएगी।हॉकीझारखंडझारखंडकेगांव-गांवमेंखेलाजाताहैलेकिनआधारभूतसंरचनाकेअभावमेंउनकीप्रतिभानिखरकरसामनेनहींआपातीहै।संभावनाहैकिइसजीतसेप्रेरितहोकरराजमेंचलरहेहॉकीकेसेंटरोंमेंतथागांवमेंसुविधाएंउपलब्धकराईजाएताकिनएखिलाड़ीसामनेआसके।