UP गोमती रिवर फ्रंट घोटाला : फ्रांस से मंगवाया गया था महंगा फव्वारा, CBI की FIR इन अफसरों व फर्मों के नाम...

राज्यब्यूरो,लखनऊ:उत्तरप्रदेशमेंसमाजवादीपार्टीकेशासनकालकी1500करोड़रुपयेकीमहत्वाकांक्षीगोमतीरिवरफ्रंटपरियोजनासेजुड़ेकरीब407करोड़रुपयेकेऔरकामोंमेंघपलापकड़ागयाहै।सीबीआइकीजांचमेंअधिकारियोंवफर्मसंचालकोंंकेबीचसाठगांठकीपोलखुलीहै।रिवरफ्रंटमेंफ्रांससेबिनाअनुमतिकेलाखोंरुपयेकाफव्वाराभीमंगवायागयाथा।सीबीआइजांचमेंपताचलाकिसिंचाईविभागकेतत्कालीनअधीक्षणअभियंतारूपसिंहयादववएसएनशर्मानेखुदहीफ्रांसकीएककंपनीकोम्यूजिकलफव्वारालगानेकाकामदेदियाथा।

सूत्रोंकाकहनाहैकिरूपसिंहनेसीधेफ्रांसकीकंपनीएक्वाटिकशोकोपत्रलिखदियाथाऔरउन्हेंटेंडरमेंशामिलहोनेकेलिएलखनऊआमंत्रितकियाथा।इसटेंडरकोलेकरभीकोईनिविदाजारीकिएबिनाहीसीधेकंपनीकोकामदेदियागयाथा।बतायागयाकिजिन661कामोंकीजांचकीगई,उनमेंकरीब600कामबिनाटेंडरकेसीधेकोटेशनपरदेदिएगएथे।सामनेआयाहैकिकामोंकेआवंटनकेलिएफर्जीअखबारतकछपवाएगएथे,जिनकीप्रतिफाइलोंमेंलगादीजातीथी।जिससेसाबितकियाजासकेकिसंबंधितकामकाटेंडरअखबारोंमेंप्रकाशितकरायाजाचुकाहै।

बतादेंकिसीबीआइलखनऊकीएंटीकरप्शनब्रांचने407करोड़रुपयेके661कार्योंकीआरंभिकजांचकेबादरिवरफ्रंटघोटालेमेंसिंचाईविभागके16तत्कालीनअधिकारियोंवकर्मियोंसमेतकुल189आरोपितोंकेविरुद्धदूसरीएफआइआरदर्जकीहै।आपराधिकषड्यंत्रवधोखाधड़ीकीधाराओंमेंदर्जएफआइआरमेंनिजीफर्मसंचालकों,ठेकेदारोंवअन्यलोगोंकेनामभीशामिलहैं।जांचमेंसामनेआयाहैकिअधिकारियोंकीमददसेनियमोंकोदरकिनारकरनिजीफर्मोंकोअधिककीमतपरकामदिएगएथे।इसघोटालेकीजांचप्रवर्तननिदेशालय(ईडी)भीकररहाहै।

सीबीआइनेदोजुलाईकोयहकेसदर्जकरनेकेबादसोमवारकोआरोपितोंकेउत्तरप्रदेशसमेततीनराज्योंके15जिलोंमेंस्थित42ठिकानोंपरछापेमारीकी।इनमेंगोरखपुरमेंराप्तीनगरकालोनीस्थितभाजपाविधायकराकेशसिंहबघेलकाआवासभीशामिलहै।विधायककाछोटाभाईअखिलेशसिंहभीसीबीआइकीएफआइआरमेंनामजदआरोपितहै।अखिलेशकीफर्मरिशूकंस्ट्रक्शननेभीरिवरफ्रंटमेंकामकियाथा।सीबीआइनेसबसेअधिकलखनऊस्थित25ठिकानोंपरछानबीनकी।जबकि,राजस्थानकेअलवरवकोलकातास्थितदोस्थानोंपरभीछापामारा।लखनऊ,गाजियाबाद,रायबरेली,सीतापुर,गौतमबुद्धनगर,अलीगढ़,गोरखपुर,आगरा,बुलंदशहर,एटा,मुरादाबाद,मेरठवइटावासमेतसूबेके13जिलोंमेंछापेमारीकेदौरानघोटालेसेजुड़ेकईअहमदस्तावेज,लैपटापवअन्यइलेक्ट्रानिकउपकरणबरामदकिएगएहैं।

ईडीनेअटैचकीथीसंपत्ति:प्रदवर्तननिदेशालय(ईडी)नेजांचकेबादजुलाई2019मेंरिवरफ्रंटघोटालेकेआरोपितरुपसिंहयादव,अनिलयादववएसएनशर्माकीकरीबएककरोड़रुपयेकीसंपत्तिभीअटैचकीथी।वहींसीबीआइभीछहआरोपितोंकेविरुद्धचार्जशीटदाखिलकरचुकीहै।

येअधिकारीहैंनामजद

एफआइआरमेंइनफर्मोंवठेकेदारोंकेनाम