उत्तराखंड के विकास के लिए तैयार की मजबूत नींव: त्रिवेंद्र

देहरादून,विकासधूलिया।उत्तराखंडअपनीस्थापनाके20वर्षपूर्णकर21वेंवर्षमेंप्रवेशकररहाहै।इसअवधिमेंराज्यनेकाफीकुछहासिलकिया,तोतमामक्षेत्रोंमेंबहुतकुछहोनाअभीबाकीहै।हालांकिविकासएकसततप्रकियाहैऔरदेशकालपरिस्थितियोंकेअनुरूपइसमेंनितनईचुनौतियांसामनेआतीरहतीहैं।वर्तमानमेंभीकोरोनासंकटकेकारणएकनहीं,अनेकचुनौतियांराज्यकेसामनेहैं।राज्यकीअर्थव्यवस्थाकोपटरीपरलानेकीचुनौतीहै,तोविकासकीगतिकोबरकराररखनेकीभी।कोरोनाकेकारणअन्यराज्योंसेअपनेघरोंकोलौटेप्रवासियोंकेलिएस्वरोजगारकेअवसरउपलब्धकरानावर्तमानमेंसबसेबड़ीचुनौतीहै।राज्यकेअबतककेसफरऔरभविष्यकीचुनौतियोंसमेततमामसामयिकविषयोंपरमुख्यमंत्रीत्रिवेंद्रसिंहरावतसे'दैनिकजागरण'केब्यूरोचीफविकासधूलियानेबातचीतकी।प्रस्तुतहैंइसकेमुख्यअंश...

सवाल:उत्तराखंडआज20सालकाहोगया।आपकेनजरियेसेइसअवधिमेंराज्यकेसमक्षक्याचुनौतियांरहीं।

जवाब: राज्यकेसामनेसबसेबड़ीचुनौतीप्राकृतिकसंसाधनोंकेउचितइस्तेमालकीरहीहै।प्रकृतिनेजोसंसाधनहमेंदिएहैं,उनकाकैसेराज्यहितमेंज्यादासेज्यादाइस्तेमालकरें,इसकेलिएसुविचारितरणनीतिकीदरकारथी।प्रदेशमेंअबतकरोजगारकेनामपरसरकारीनौकरीवालावातावरणहीबनायागया।चुनावीफायदेकेलिएसबजनताकोआश्वस्तकरतेरहेकिजबसत्तामेंआएंगे,तोसरकारीनौकरियांदेंगे।सरकारीनौकरियांबेहदसीमितहैं।हमाराध्यानस्वरोजगारकीओरहोनाचाहिएथा।

प्रदेशमेंपर्यटन,साहसिकपर्यटनतथाप्राकृतिकउत्पादोंकेजरियेस्वरोजगारकीअसीमसंभावनाएंहैं।सोलरपावरस्वरोजगारकाबहुतबड़ाजरियाहै,लेकिनइसओरध्याननहींदियागया।इसक्षेत्रमेंअगरथोड़ा-बहुतकामहुआ,तोयहमैदानीजिलोंमेंखेतीकीकीमतपरहुआ।सोलरपावरकाकामऐसीजमीनोंपरहुआ,जहांअच्छीखेतीहोतीथी।होनायहचाहिएथाकिजोखेतवर्षोंसेबंजरपड़ेहुएहैं,वहांपरसोलरफार्मिंगकीजाती।पर्यटनकेआधारभूतढांचेकेविकासपरजोध्यानदियाजानाचाहिएथा,वहनहींदियागया।पलायनकीबातसभीनेकी,लेकिनयहकैसेथमेगा,इसकेलिएनकोईअध्ययनकियागयाऔरनहीइसेलेकररणनीतिबनी।अबहमनेइसदिशामेंकामशुरूकियाहै।

सवाल: अपनेसाढ़ेतीनसालकेकार्यकालकीप्रमुखउपलब्धियांक्यामानतेहैं।

जवाब: स्वास्थ्यकेक्षेत्रमेंआजअटलआयुष्मानउत्तराखंडयोजनाबड़ीमहत्वपूर्णयोजनाहै।इससेप्रदेशकाहरतबकालाभान्वितहोरहाहै।प्रदेशसरकारनेतीनमेडिकलकॉलेजस्वीकृतकरानेकेसाथहीइनकेलिएकेंद्रसेधनराशिभीआवंटितकराई।प्रदेशमेंतीनसालपहलेकुलतीनअस्पतालोंमेंआइसीयूथे,आजहरजिलेमेंआइसीयूहै।तीनवर्षोंमेंडॉक्टरोंकीसंख्या1034सेबढ़कर2500होगईहै।

हमनेइनकीसंख्याढाईगुनाबढ़ाईहै।अभी720डॉक्टरोंकीभर्तीकीप्रक्रियाचलरहीहै।एकहजारनर्सोंकीभर्तीभीकीजारहीहै।सरकारनेशिक्षाकेक्षेत्रमेंसमानशिक्षापद्धतिलागूकीहै।500स्कूलोंमेंऑनलाइनक्लासेसकीव्यवस्थाकीगईहै,700मेंकामचलरहाहै।सड़कोंकेनिर्माणकेलिएप्रदेशकोसम्मानितकियागयाहै।विषमभूगोलवालेराज्यमेंतमामतरहकीदिक्कतोंकेबावजूदहरघरबिजलीपहुंचानेकाकामकिया।अबहरघरमेंनलपहुंचारहेहैं।सरकारनेबिजली,पानी,सड़क,शिक्षाऔरस्वास्थ्यकेक्षेत्रकोप्राथमिकतामेंरखा।

सवाल: डेढ़सालबादविधानसभाचुनावहैं,आपनेइसकेलिएक्यारोडमैपतैयारकियाहै।

जवाब: प्रदेशसरकारनेविकासकेलिएमजबूतनींवतैयारकीहै।कुछईंटेंभीरखदीगईहैं।अबमजबूतनींवपरभवनखड़ाकरनेकाकामचलरहाहै।वर्तमानमेंसरकारकेसामनेसबसेबड़ामुद्दाग्रीष्मकालीनराजधानीगैरसैंणकाहै।यहांआनेवालेसमयमेंभारीनिवेशकरनाहोगा।गैरसैंणउत्तराखंडकीपीड़ाभीहै।यहदूरस्थक्षेत्रकाप्रतिनिधित्वकरताहै।गैरसैंणराज्यआंदोलनकारियोंववीरचंद्रसिंहगढ़वालीकीआत्माकीआवाजहै।गैरसैंणकाविकासहमारेसामनेसबसेबड़ालक्ष्यहै।

सवाल: उत्तराखंडमेंडबलइंजनकितनीतेजीसेदौड़ा।

जवाब: निश्चितरूपसेहमेंइसकाफायदामिलाहै।प्रदेशमेंकुछवर्षोंपहलेतकहरमाहरेवेन्यूडेफिसिटग्रांटनहींमिलरहीथी।14वेंवित्तआयोगनेहमेंकुछनहींदिया।अबहरमहीने450करोड़रुपयेमिलरहेहैं।यहसालानापांचहजारकरोड़सेज्यादाबनताहै।छहसालमें30हजारकरोड़सेज्यादाहोगीयहधनराशि।केंद्रकेसाथहीउत्तरप्रदेशऔरउत्तराखंडमेंभाजपाकीसरकारकाफायदायहहुआकिवर्ष2011सेजोपेंशनकीधनराशिनहींमिलरहीथी,आजउत्तरप्रदेशसेसेवानिवृत्तकर्मचारियोंकीपेंशनकेदोसौसेढाईसौकरोड़रुपयेसालानामिलरहेहैं।ऑलवेदरचारधामसड़कपरियोजनाऔरऋषिकेश-कर्णप्रयागरेललाइनकानिर्माणकितनीतेजीसेहोरहाहै,आपदेखहीरहेहैं।यहडबलइंजनकीसरकारकाहीतोअसरहै।

सवाल: विकासकीयोजनाओंकेसाथपर्यावरणसंरक्षणकासंतुलनसाधनाकितनाअहमहै।

जवाब: हमारीसरकारइसबातकापूराध्यानरखरहीहै।पर्यावरणकेनामपरविकासयोजनाओंकाविरोधकरनेवालेलोगएकांगीविचारकररहेहैं,उन्हेंसंपूर्णतामेंविचारकरनाचाहिए।उत्तराखंडमें,जहां71प्रतिशतवनक्षेत्रहै,हरव्यक्तिपर्यावरणकीकीमतजानताहै।किसीकोहमेंपर्यावरणसंरक्षणकीबातसिखानेकीजरूरतनहींहै।प्रदेशकेजनमानसमेंपर्यावरणकेप्रतिप्रेमहै।हमाराउद्देश्यसंतुलितविकासहै।

सवाल: राज्यमेंविपक्षकीभूमिकाकोआपकिसनजरियेसेदेखतेहैं।

जवाब: विपक्षकीकोईभूमिकाहीनहींनजरआरहीहै।हां,अबचुनावकावक्तआरहाहैतोआजकलवेउल्टीसीधीगतिविधियांकररहेहैं।विपक्षआपसमेंलड़रहाहै।

सवाल: आपकीटीममेंपांचमंत्रीकांग्रेसपृष्ठभूमिकेहैं,इससेकिसीतरहकीदिक्कतमहसूसहुई।

जवाब: सभीभाजपामेंआएहैं।सभीनेभाजपास्वीकारकीहै।मैंउन्हेंकांग्रेसीनहीं,भाजपाईहीसमझताहूं।

यहभीपढ़ें:सीएमत्रिवेंद्रसिंहरावतबोले,नएभारतकेनिर्माणमेंउत्तराखंडकीमहत्वपूर्णभूमिका