उत्तराखंड: पूर्व निदेशक डा त्रिपाठी के खिलाफ शासन ने बैठाई जांच, ये लगे हैं आरोप

राज्यब्यूरो,देहरादून।आयुषऔरआयुषशिक्षाविभागकेअंतर्गतआयुर्वेदिकएवंयूनानीसेवाएंकेपूर्वनिदेशकडाअरुणकुमारत्रिपाठीपरशासननेशिकंजाकसाहै।वित्तीयअनियमिततासमेतअन्यकईशिकायतोंकोदेखतेहुएशासननेउनकेखिलाफजांचबैठादीहै।प्रभारीसचिवएसएनपांडेयकोजांचअधिकारीनामितकियागयाहै।

वर्तमानमेंउत्तराखंडआयुर्वेदविश्वविद्यालयकेगुरुकुलपरिसरकेप्राचार्यडाअरुणकुमारत्रिपाठीकेखिलाफ24जुलाई2014से11जुलाई2019तकआयुर्वेदिकएवंयूनानीसेवाएंकेकार्यवाहकनिदेशककेपदरहनेकेदौरानतमामअनियमितताएंबरतनेकाआरोपहै।प्रभारीसचिवआयुषएवंआयुषशिक्षाचंद्रेशकुमारकीओरसेजारीआदेशकेअनुसारडा.त्रिपाठीकेखिलाफक्रयकीगईआयुर्वेदिकऔषधियोंकेनमूनेफेलहोने,सरकारीवाहनवपेट्रोलकेगबन,शासनद्वारासंबद्धतासमाप्तकिएजानेकेउपरांतभीबिनाअनुमतिकेचिकित्साधिकारियोंऔरफार्मेसिस्टोंकोउनकेइच्छितस्थानोंपरसंबद्धकरने,विभागमेंफार्मेसिस्टोंकीनियुक्तिवतैनातीमेंअनियमितताकीशिकायतेंविभिन्नमाध्यमोंसेशासनकोप्राप्तहुईहैं।

आदेशकेमुताबिकइनशिकायतोंकीप्रारंभिकजांचकेलिएप्रभारीसचिवएसएनपांडेयकोजांचअधिकारीनामितकियागयाहै।उन्हेंप्रकरणकीजांचकरआख्यायथाशीघ्रशासनकोउपलब्धकरानेकोकहागयाहै।पूर्वमेंडात्रिपाठीद्वाराअनुरोधकेआधारपरफार्मेसिस्टोंकेतबादलेकिएजानेकोलेकरआयुषमंत्रीडाहरकसिंहरावतनेभीकड़ीआपत्तिजताईथी।तबमंत्रीसेइससंबंधमेंअनुमोदनतकनहींलियागयाथा।

यहभीपढ़ें- अव्यवस्थाओंपरटूटीअधिकारियोंकीनींद,कार्डियोलाजिस्ट,फिजीशियनऔरईएमओकोनोटिस

UttarakhandFloodDisaster:चमोलीहादसेसेसंबंधितसभीसामग्रीपढ़नेकेलिएक्लिककरें