वाराणसी कैंट रेलवे स्टेशन के सामने पूरी रात बिकती है शराब, फलफूल रहा है शराब की बिक्री का धंधा

जागरणसंवाददाता,वाराणसी।कैंटरेलवेस्टेशनकेबाहरशराबसंगनशीलेपदार्थोंकेबिक्रीकाधंधाचोरी-छिपेजोरोंपरचलरहाहै।यहखेलपूरीरातचलताहै।शराबकीदुकानेंबंदहोनेकेबादअधिकदामोंपरबेचीजातीहैं।इसखेलमेंकैंटरेलवेस्टेशनऔरपरेडकोठीकेलाइसेंसीदुकानदारशामिलहै।इसकामकोअंजामतकपहुंचातेहैंहोटल,गेस्टहाउसऔरलाजकेकर्मचारी।शराबकीदुकानसेदूरएकस्थानपररखकरबिक्रीकरतेहैं।हरबोतलपर100से200रुपयेअधिकलेतेहैं,यदिबाहरीकोईव्यक्तिदिखाईपड़गयातोमनमानामांगतेहैं।यहधंधास्थानीयपुलिस,आबकारीविभागकेसंरक्षणमेंचलरहाहै।इसक्षेत्रमेंवहकभीचेकिंगकरनेतकनहींजातेहैं।शिकायतकरनेवालोंपरविभागीयअधिकारीउल्टाकार्रवाईकरनेलगतेहैं।

अवैधशराबकीबिक्रीकासिंडीकेटतोडऩाप्रशासनकेलिएटेड़ीखीरसाबितहोरहीहै।तमामआभियानकेबावजूदयेकालाबाजारीकाधंधातेजीसेफलफूलरहाहै।निचलेस्तरपरमिलरहीसरपरस्तीकेचलतेसारीकार्रवाईकागजोंतकसिमटचुकीहै।रातदसबजेकेबादकैंटस्टेशनकेसामनेस्थितविजयानगरममार्केटशराबखोरऔरकालाबाजारीकरनेवालोंसेगुलजाररहताहै।यहांदसबजेकेबादजनपदकेआलावाआसपासकेजिलोंसेभीलोगशराबकीचाहमेंपहुंचतेहैं।

कमलागतज्यादामुनाफा: इसधंधेमेंलिप्तमिलावटीशराबपरोसतेहैं,लेकिनसामनेवालेकोइसकीभनकतकनहींलगती।दिनमेंस्टाकजुटाकररातदसबजेकेबादइनकीदुकानदारीशुरुहोजातीहै।होटल,गेस्टहाउसऔरलाजकेकर्मचारीभीयात्रियोंसेमुनाफाकमानेकीलालचमेंउन्हेंदेररातशराबमुहैयाकरातेहैं।

स्ट्रीटलाइटकरदियाखराब:अवैधशराबकीबिक्रीमेंलिप्तलोगोंनेमार्केटमेंलगीस्ट्रीटलाइटकोखराबकरदियाहै,ताकिइसकालाबाजारीमेंकिसीकोसंदेहभीनहोसके।इसीअंधेरेकाफायदाउठाकरयात्रियोंसेलूटकीघटनाओंकोभीअंजामदियाजाताहै।

परिवारकेसाथकरतेहैंदुर्व्‍यवहार:पेट्रोलपंपकेपीछेविजयानगरममार्केटहै।यहांखानेकीकईदुकानेंहै।बाहरसेआएयात्रीखानेकेलिएजातेहैंतोइसधंधेसेजुड़ेलोगदुर्व्‍यवहारकरतेहैं।दुकानदारोंकेविरोधकरनेपरमारपीटकरनेपरआमादाहोजातेहैं।स्थानीयपुलिसकार्रवाईकरनेकीबजायसमझौताकरानेपरज्यादाजोरबनातेहैं।

पौवा(अंग्रेज़ी)-230से250रुपये

हाफ(अंग्रेज़ी)-450से500रुपये

पौवा(देसी)-100से110रुपये

बीयर200से250रुपये

(नोट-यहकंपनीकारेटनहींहै,बल्किइसधंधेसेजुड़ेलोगोंका)

बोलेअधिकारी: दुकानखुलनेऔरबंदहोनेकासमयनिर्धारितहै।रात10बजेकेबादकोईदुकानखोलताहैतोगलतहै।लाइसेंसीदुकानकेअलावाकोईशराबबेचताहैतोउसकेखिलाफकार्रवाईकीजाएगी।-ओमवीरसिंह,जिलाआबकारीअधिकारी।