वेलनेस सेंटरों में होगी अब कैंसर की जांच

जासं,चकिया(चंदौली):राष्ट्रीयस्वास्थ्यमिशनकेतहतगांव-गिरांवमेंआमजनकोबेहतरस्वास्थ्यसुविधाएंदेनेकोशासनगंभीरहै।इसकेलिएतहसीलकेआठउपकेंद्रोंमेंहेल्थएंडवेलनेससेंटरबनायाजारहाहै।यहांकैंसरजैसीगंभीरबीमारीकीजांचहोगी।विभागकेमुताबिक,आयुष्मानभारतमेंइनसेंटरोंकोअपडेटकियाजाएगा।प्रत्येकसेंटरमेंकम्युनिटीहेल्थअफसर(सीएचओ)कीतैनातीहोगी।शासननेएकसेंटरकेनिर्माणकेलिएसातलाखरुपयेस्वीकृतकिएहैं।निर्माणकीजिम्मेदारीग्रामीणअभियंत्रणसेवा(आरईएस)कोसौंपीगईहै।

दरअसल,ग्रामीणक्षेत्रकेलोगोंकेरहन-सहनऔरखान-पानमेंपिछलेकुछअरसेसेबदलावआयाहै।इसकाअसरआमजनकीसेहतपरपड़रहाहै।तहसीलकेस्थानीयब्लाकमेंछहवशहाबगंजमेंदोसेंटरोंकानिर्माणकार्यहोरहाहै।इसमेंभारतीयचिकित्सापद्धतिसेबीमारीकाइलाजकियाजाएगा।साथहीउन्हेंस्वस्थरहनेकेटिप्सदिएजाएंगे।सेंटरसेप्रसवपूर्ववप्रसवकेउपरांतसेवाएं,नवजातएवंशिशुस्वास्थ्यदेखभाल,बालस्वास्थ्यवकिशोरावस्थास्वास्थ्यदेखभाल,परिवारनियोजन,संचारीरोगप्रबंधन,बाह्यरोगियोंकीसाधारणबीमारियोंकाउपचार,गैरसंचारीरोगोंकीस्क्रीनिग,रेफरलवफालोअपकेसाथहीमानसिकस्वास्थ्य,नेत्र,नाक,कान,मुखसंबंधीप्राथमिकववृद्धावस्थासंबंधीसेवाएंमिलेंगी।छोटी-बड़ीजांचकेलिएबनेगीलैब

हेल्थएंडवेलनेससेंटरमेंछोटी-बड़ीजांचकेलिएलैबबनेगी।इसमेंहाइपरटेंशन,तीनप्रकारकेकैंसर(ओरल,ब्रेस्टवसर्वाइकल),हीमोग्लोबीन,टीएलसी-डीएलसी,पेरिफेरलस्मेयर,ब्लडग्रुपिग,प्रेग्नेंसीजांच,यूरीनडिपास्टिकद्वाराअल्बोमिनवग्लूकोजजांच,ब्लडग्लूकोज,मलेरिया,डेंगू,चिकनगुनिया,फाइलेरिया,कालाजार,रैपिडसिफलिस,टायफाइड,हेपेटाइटिसवबलगमकीजांचकीजाएगी।''हेल्थएवंवेलनेससेंटरसेआमजनकोबेहतरस्वास्थ्यसुविधाएंमिलेंगी।कैंसरजैसीगंभीरबीमारीकीभीजांचसेंटरमेंहोगी।परीक्षणकेलिएलोगोंकोनहींभटकनापड़ेगा।''

-डा.सुजीतसिंह,प्रभारीचिकित्साधिकारी।