विदेश से आए लोगों का लिया जा रहा है सैंपल

सहरसा।जिलेमेंविदेशसेआएलोगजिन्हेंहोमक्वारंइटनमेंरखागयाथा,उनसबोंकीजांचकेलिएरक्तकेनमूनोंकासंग्रहणकियाजारहाहै।जिसेजांचकेलिएभेजाजाएगा।

जिलास्वास्थ्यसमितिकेप्रोग्रामपदाधिकारीविनयरंजननेबतायाकिविदेशसेआएलोगोंकीसूचीजिलाप्रशासनद्वाराउपलब्धकराईगईहै।ऐसेलोगोंको14दिनोंकेहोमक्वरांइटनमेंरखागयाथा।उनलोगोंपरपुलिसप्रशासनद्वारानजरभीरखीजारहीथी।अबउनकेरक्तकानमूनालेकरजांचमेंआरएमआरआइपटनाभेजाजारहाहै।जांचरिपोर्टमिलनेकेबादआगेकीकार्रवाईकीजाएगी।वहींअन्यप्रांतोंसेआएलोगजिसेहोमआइसोलेशनमेंरखागयाहैउनमेंअगरलक्षणपाएजातेहैंतोउनकीजांचभीकराईजाएगी।

एंबुलेंसकर्मीकोमिलरहाहैकिट

राज्यस्वास्थ्यसमितिद्वारासूबेमेंसंचालितएंबुलेंसचालकोंकेलिएकिटपटनामेंहीउपलब्धकरादियागयाहै।16सौकिटउपलब्धकराएगयेथे।जरूरतकेहिसाबसेसभीजिलेकोभेजागयाहै।जबकिचिकित्सकवअन्यस्वास्थ्यकर्मियोंकेलिएजिलास्वास्थ्यसमितिसेहीकिटउपलब्धकरायाजारहाहै।जिलेमेंअभी208पीपीईकिटउपलब्धहैजोआइसोलेशनमेंकार्यकरनेवालेकर्मीवचिकित्सककोदियाजारहाहै।जबकिअस्पतालमेंकार्यकरनेवालेकर्मीवचिकित्सककोमॉस्कदियाजारहाहै।वैसेजोभीहोलेकिनचिकित्सकवकर्मीजानजोखिममेंलेकरमरीजोंकाइलाजकररहेहैं।सुरक्षाकोलेकरसभीपीएचसीयासदरअस्पतालमेंसभीकर्मीवचिकित्सककोप्रतिदिनकिटउपलब्धनहींकरायाजारहाहै।