विकास को पागल बताने वाली राजनीति

पिछले22वर्षोंसेगुजरातकीसत्तापरकाबिजभाजपाराज्यकीजनतासेएकबारफिरजनादेशकीगुहारलगारहीहैतोइतनेलंबेअरसेसेसत्तासेबाहररहीकांग्रेसकोवापसीकासुनहरामौकानजरआरहाहै।दिलचस्पयहहैकिअमूमनरक्षात्मकरहनेवालीकांग्रेसइसबारखासेआक्रामकतेवरदिखारहीहैऔरभाजपाकोउसीकेहथियारसेमातदेनेकीफिराकमेंहै।यहहथियारऔरकुछनहींविकासकावही‘गुजरातमॉडल’हैजिसकेदमपरनरेंद्रमोदीप्रधानमंत्रीकेपदतकपहुंचगए।अब कांग्रेस केनिशानेपरयहीगुजरातमॉडलहै।उसकाआरोपहैकिगुजरातमेंकोईविकासहुआहीनहीं।प्रथमदृष्टयाउसकायहआरोपहैरानकरताहै,क्योंकिहालतककांग्रेसीयहकहतेनहींथकतेथे,‘मोदीनेकियाहीक्याहै?गुजराततोपहलेसेहीविकसितथा!’मोदीकेगुजरातमॉडलकापहलास्तंभराज्यऔरकानून-व्यवस्थासेजुड़ाहैजिसमेंकानूनकेराजकोआदर्शरूपसेस्थापितकियागया।कांग्रेसीशासनमेंदंगा-राजऔरगुंडा-राजहीगुजरातकायथार्थथा।राजनीतिकसत्ताकासाराखेलजातिऔरमजहबकेगुणा-गणितपरआधारितथा।सभीराजनीतिकदलोंनेअपने-अपनेपक्षकीजातियोंके‘बाहुबलियों’कोप्रश्रयदेनेकीनीतिअपनारखीथी।येबाहुबलीचुनावकेवक्तकामआतेथे।इसकेविपरीतगुजरातमॉडलकेकेंद्रमेंहिंदुत्वकेआधारपरएकसंयुक्त-हिंदूमतदातावर्गकानिर्माणकियागया।संगठितहिंदू-वोटनेएकहीझटकेमेंसारापुरानाचुनावीगुणा-गणितखत्मकरदिया।गुजरातमेंपहलेअन्यराज्योंकीतरहसेकोईभीपार्टीदो-तीनहिंदूजातियोंकोसाधतीथीऔरमुस्लिमवोटोंकोउसमेंसम्मिलितकरकेचुनावजीतजातीथी,परंतुइससेहोतायहथाकिसरकारहमेशाइनजातियोंऔरसमुदायोंकेनेताओंएवंगुंडोंसेब्लैकमेलहोतीरहतीथी।वहगुंडागर्दीऔरभ्रष्टाचारपरकिसीभीप्रकारकीकार्रवाईकासाहसइसभयसेनहींजुटापातीथीकिकहींउसकीकीमतअगलेचुनावमेंनचुकानीपड़जाए।चूंकिमोदीकागुजरातइसदलदलसेमुक्तहोसकाइसीलिएवहसंगठितअपराध,माफियाऔरबाहुबलियोंकेवर्चस्वकोतोड़नेमेंसफलहुआ।जहांदेशकीराजधानीदिल्लीतकमेंबाजार8-9बजते-बजतेबंदहोजातेहैंऔरथोड़ीबहुतनाइट्लाइफपब-डिस्कोऔरहोटलोंतकसिमटजातीहैवहींगुजरातकेशहरोंमेंआधी-राततकसड़कोंपरबाजारकीरौनकरहतीहैऔरलोगसपरिवारघूमतेदिखतेहैं।इनमेंलड़कियांऔरमहिलाएंभीहोतीहैैं।राष्ट्रीयअपराधब्यूरोकेआंकड़ोंकेअनुसारगुजरातमहिलाओंकेलिएसबसेसुरक्षितराज्योंमेंसेहै।जहांपहलेशहरोंकेचुनिंदाइलाकोंमें‘भाईकल्चर’चलताथाऔरमहीनोंतककफ्र्यूलगारहताथावहांअबबाजारफल-फूलरहेहैैं।जाहिरहैकिकानूनएवंव्यवस्थाअच्छीहोगी,स्थायित्वऔरशांतिहोगीतोअर्थव्यवस्थाभीबेहतरहोगीही।2001-2013सेगुजरातकीजीडीपी10फीसदकीदरसेबढ़ीहै।यहीनहीं2012-2017केकालखंडमेंभीजबहरजगहविकासदरगिरीहैतबभीगुजरातने10प्रतिशतकीदरबरकराररखीहै,जोदेशमेंसबसेअधिकहै।यहभीउल्लेखनीयहैकिभारतका22प्रतिशतनिर्यातगुजरातसेहोताहै।2013-2017मेंगुजरातकीअर्थव्यवस्थामेंऔद्योगिकऔरउत्पादनक्षेत्रकाहिस्सा28.4फीसदसेबढ़कर34.4फीसदहोगयाहैजोकिचीनकेसमकक्षहै।1999-2000मेंगुजरातअगरभारतकापांचवांसबसेसमृद्धराज्यथातोआजयहदेशकातीसरासबसेसमृद्धराज्यहै।‘अंबानी-अडानीकीसरकार’औरकॉरपोरेटमॉडलकेफर्जीप्रवचनकेविपरीतगुजरातकीअर्थव्यवस्थाका37फीसदहिस्सालघुऔरमध्यमउद्योगोंकाहैऔरपिछले5वर्षोंमेंसबसेअधिकबढ़तश्रमप्रधानक्षेत्रोंमेंहुईहै।देशमेंसबसेअधिकसूक्ष्म,लघुऔरमध्यमउद्योगगुजरातमेंहैं।गुजरातसबसेकमबेरोजगारीवालेक्षेत्रोंमेंसेहै।दरअसलगुजरातआजपश्चिमबंगाल,बिहार,पूर्वीउत्तर-प्रदेशऔरअन्यइलाकोंकेमजदूरोंकेपलायनकामुख्यकेंद्रहै।रोजी-रोटीकीतलाशमेंगुजरातजानेवालोंमेंअमेठीऔररायबरेलीकेलोगभीशामिलहैैं।यहांकेकईपरिवारतोस्थाईरूपसेवहींबसगएहैैं।सोशलसेक्टरमेंभीगुजरातकीप्रगतिसराहनीयहै।आंकड़ोंकोगलततरीकेसेपेशकरगुजरातकीगलततस्वीरखींचीजारहीहै।केरलमेंशिशुमृत्युदर(12/1000)कीगुजरात(33/1000)सेतुलनाकरकेयहबतायाजारहाहैकिगुजरातमेंविकासकेदावेझूठेहै।जोनहींबतायाजारहावहयहकि2001मेंकेरलमेंयहदर11/1000थीऔरगुजरातमें60/1000।केरलमेंयह11सेबढ़कर12हुईहैतोगुजरातमें60सेघटकर2015में33हुईऔर2017मेंकुछऔरकम।गुजरातकमपानीवालाक्षेत्रहै।यहांकीबहुतसीजमीनबंजरहैयाफिरकमउपजाऊहै,फिरभीगुजरातकृषिक्षेत्रमें11प्रतिशततककीविकासदरहासिलकरनेमेंसक्षमरहाहै।इजरायलकीसिंचाईकीआधुनिकतकनीक-ड्रिप-सिंचाईकोअपनाने,1,00,000चेक-डैमबनाने,मृदास्वास्थ्यकार्ड,कृषि-बाजारमेंसुधार,किसानोंकोसूचनाकेसाधनोंऔरतकनीकसेजोड़नेकेजोकामकिएगएउनकेचलतेहालातपहलेसेबेहतरहुएहैं।गुजरातमॉडलमेंआधारभूतसंरचनामेंनिवेशपरभीखासाजोरदियागयाहै।बिजली-क्षेत्रमेंसुधारकागुजरातसफलउदाहरणहै।इसकेअलावावहअक्षयऊर्जाजैसेवायुऔरसौरऊर्जाकेक्षेत्रमेंभीदेशकेअग्रणीराज्योंमेंसेहै।गुजरातसौफीसदगांवोंमेंबिजलीपहुंचानेवालापहलाराज्यहै।वहघरेलूउपभोक्ताओंको24घंटेऔरखेती-सिंचाईजैसेकार्योंकेलिएप्रतिदिन8-10घंटेबिजलीदेनेमेंसफलरहाहै।सड़कों,बंदरगाहोंइत्यादिमेंअप्रत्याशितसुधारकीकहानीतोजगजाहिरहै।गुजरातमॉडलकासबसेमहत्वपूर्णस्तंभप्रशासनिकसुधारहै।मोदीनेगुजरातमेंनकेवलपेशेवरलोगोंकीनियुक्तिपरजोरदिया,बल्किनियुक्तियोंऔरप्रोन्नतिमेंकार्य-प्रदर्शनकोअहमियतदेनाशुरूकिया।इसकेअलावानईतकनीकखासतौरपरडिजिटलतकनीककोबड़ेपैमानेपरसरकारीढांचेमेंएकीकृतकरनाशुरूकिया।इससेएकओरजहांसरकारकीकार्य-क्षमताबढ़ीवहींदूसरीओरभ्रष्टाचारपरभीलगामलगी।सीएमएसके2017केएकशोधकेअनुसारकांग्रेसशासितकर्नाटकदेशकासबसेभ्रष्टराज्यहैवहींगुजरातमें2005-17केबीचभ्रष्टाचारमेंगिरावटआईहै।गुजरातमॉडलअच्छीकानूनएवंव्यवस्था,कुशलप्रशासन,बेहतरीनआधारभूतढांचेऔरउद्योग-व्यापारकोबढ़ावादेनेकेलिएअधिकसेअधिकआर्थिकस्वतंत्रतादेनेपरआधारितहैऔरइसीकारणवहलगातारदोदशकोंतक10प्रतिशतकीआर्थिकविकासदरदेनेमेंसफलरहाहै।यहसहीहैकिसोशलसेक्टरमेंकईक्षेत्रोंमेंबेहतरकामहोसकताथा,लेकिनकांग्रेसकायहकहनाकि‘विकासपागलहोगयाहै’नकारात्मकराजनीतिकाचरमहै।बजायइसकेकिबेहतरकामकरनेकाअपनामसौदारखकरविपक्षचुनावलड़ता,वहजाति-समुदायकीराजनीतिकेआधारपरचुनावलड़रहाहै।यहएकतरहसेगुजरातको80और90केदशकमेंलौटानेवालीराजनीतिहै।[लेखकदिल्लीविश्वविद्यालयमेंअर्थशास्त्रकेअसिस्टेंटप्रोफेसरएवंवरिष्ठस्तंभकारहैैं]