WhatsApp Chat Leak: क्या अर्नब गोस्वामी को पहले से थी बालाकोट स्ट्राइक की जानकारी? विपक्ष ने की जांच की मांग

अर्नबगोस्वामीऔरपार्थदासगुप्ताकीकथितWhatsAppचैट्ससेयहसवालखड़ाहोनेलगाहैकिक्यारिपब्लिकटीवीकेएडिटरइनचीफगोस्वामीकोपहलेहीपाकिस्तानमेंआतंकवादियोंपरहमलेऔरजम्मू-कश्मीरसेआर्टिकल370हजाएजानेकीजानकारीथी?चैटकोलेकरअबदेशकीसियासतमेंभीभूचालआगयाहै,विपक्षनेकथितव्हाट्सएपचैटकीउच्चस्तरीयजांचकीमांगकीहै।कांग्रेसनेतामनीषतिवारीनेट्वीटकरराष्ट्रीयसुरक्षापरचिंताव्यक्तकीहै।

यहभीपढ़ें:कंगनारनौतऔरऋतिककोलेकरअर्नबगोस्वामीकाव्हाट्सएपचैटलीक,एक्ट्रेसकोErotomaniaसेग्रसितबताया

सांसदमनीषतिवारीनेट्विटरपरलिखा,'अगरमीडियाकाएकवर्गसहीरिपोर्टिंगकररहाहैतोयहबालाकोटहवाईहमलोंऔर2019केआमचुनावोंकेबीचसीधेजुड़ावकीओरइशाराकरताहै।क्याचुनावीउद्देश्यसेराष्ट्रीयसुरक्षाकोमथागया?इसमामलेमेंसंयुक्तसंसदीयसमितिजांचकीअवश्यकताहै।मनीषतिवारीकेअलावाकांग्रेसनेताऔरपूर्वकेंद्रीयमंत्रीपीचिदंबरमनेभीसवालउठाएहैं।चिदंबरमनेट्वीटमेंलिखा,'क्याअसलस्ट्राइकसेतीनदिनपहलेएकपत्रकार(औरउसकेदोस्त)कोबालाकोटशिविरमेंजवाबीहमलेकेबारेमेंपताथा?यदिहाँ,तोइसबातकीक्यागारंटीहैकिउनकेस्रोतोंनेपाकिस्तानकेसाथकामकरनेवालेजासूसोंयामुखबिरोंसहितअन्यलोगोंकेसाथभीजानकारीसाझानहींकीहोगी?'