योग मानसिक व शारीरिक विकास के लिए है अति आवश्यक

धर्मशाला,जेएनएन।अटलबिहारीवाजपेईराजकीयमहाविद्यालयतकीपुरमेंअंतरराष्ट्रीययोगदिवसकेउपलक्ष्यपरलाइवसेशनकाआयोजनकियागया।कार्यक्रमकीअध्यक्षताकरतेहुएमहाविद्यालयकेप्राचार्यडॉएनएनशर्मानेकहाकिआजकेइसबदलतेपरिवेशमेंयोगजहाएकऔरहमारेमानसिकविकासमेंसहायकहै।वहींदूसरीओरस्वस्थशारीरिकविकासमेंअहमभमिकाअदाकरताहै।

उन्होंनेसमस्तप्रतिभागियोंसेआह्वानकियाकिवोयोगकोअपनीदिनचर्याकाभागबनाएंतथाएकस्वस्थभारतकेनिर्माणमेंअपनायोगदानदें।उन्होंनेबड़ेहीसरलएवंसटीकशब्दावलीकेमाध्यमसेछात्रोंकोकोरोनाकालमेंयोगकाबढ़ताहुआमहत्वसमझाया।उन्होंनेअपनेओजस्वीभाषणसेछात्रोंकोरोजयोगकरनेऔरयोगकोअपनीदिनचर्याकाअभिन्नअंगबनानेकेलिएप्रेरितकिया।

इससालकेयोगदिवसकाविषय"योगफॉरपीसएंडहार्मोनी"है।हिमाचलप्रदेशविश्ववद्यालयतथायोगप्रशिक्षकडॉक्टरडेजीवर्मासहआचार्यएवमआर्टऑफलिविंगप्रशिक्षक)नेकार्यक्रममेंमुख्यवक्ताएवंयोगप्रशिक्षककेरूपमेंभागलिया।उन्होंनेविद्यार्थियोंकोइसलाइवसेशनमेंयोगकेबारेमेंजरूरीजानकारीऔरप्रशिक्षणभीदिया।उन्होंनेबतायाकीयोगनाकेवलएकव्यक्तिकेअध्यात्मिकविकासमेंमुख्यभूमिकानिभाताहैसाथहीसाथमनमेंशांतिऔरचितकोप्रसन्नभीरखताहै।

उन्होंनेप्रतिभागियोंकोविभिन्नयोगक्रियाओंकप्रदर्शनकरउनकेलाभोंकेबारेमेंअवगतकिया।जहांयोगएकतरफकार्यकरनेमेंकुशलतामेंवृद्धिकरताहै।वहींयहव्यक्तिकोहमेशाहंसतामुस्कुरातारहनेमेंकारगरहै।सभीनेअपनेघरपरहीरहतेहुएऑनलाइनगूगलमीटकेमाध्यमसेयोगाभ्यासकिया।कार्यक्रमकसंचालनकरतेहुएसंयोजकप्रोफेसरहर्षदीपिकानेअपनेस्वागतभाषणमेंअंतरराष्ट्रीययोगदिवसकीपृषठभूमिपरप्रकाशडालातथाकहाकीमहाविधालयमेंकोरोनाकालमेंऐसेआयोजनमीलपथरसाबितहोंगे।इसअवसरपरमहाविधालयकेप्राध्यापकडॉक्टरभगवानदास,पवनकुमार,श्रुतिशर्मा,सतपालशामिलहुए।जबकिमहाविद्यालयकेगैरशिक्षककर्मचारियोंसहितस्मस्तछात्रछत्राओंनेभागलिया।

कोटलामैदानमेंशारीरिकदूरीरखकरकियायोग

कोटला:विश्वयोगदिवसकोटलाक्षेत्रमेंकोरोनानियमोंकेतहतपूरीसतर्कताकेसाथमनायागया।भारतीयजनतापार्टीमंडलजवालीकेकार्यकर्ताओंनेकोटलामैदानमेंयोगकरकेविश्वयोगदिवसमनाया।राजकीयआदर्शवरिष्ठमाध्यमिकपाठशालाकोटलाकीएनएसएसइकाईकेस्वयंसेवियोंद्वाराऑनलाइनयोगाअभ्यासकाआयोजनकियागया।इसअभ्यासमेंसभीनेरुचिदिखातेहुएबढ़चढ़करहिस्सालियापाठशालाकेप्रधानाचार्यसंदीपअवस्थीनेबच्चोंकोयोगासेहमारेशरीरकोहोनेवालेलाभोंपरविस्तृतचर्चाकी।

कार्यक्रमअधिकारीनरेंद्रसिंहनेबच्चोंसेकहाकीयदिआजकेसमयमेंअपनेशरीरकोतंदुरुस्तरखनाहैतोनित्यहमेंयोगाअभ्यासकरनाचाहिए!रोजानायोगाभ्यासकरनेसेहममानसिकतथाशारीरिकदोनोंतरहसेस्वस्थरहसकतेहैं।इसऑनलाइनयोगाअभ्यासमेपाठशालाप्रवक्तारजनीशकुमारी,नीलमचौहान(टीजीटीविज्ञान),कुलदीपपठानियां,गिरीशकुमार,अमिततथाअन्यअध्यापकभीउपस्थितरहे।

बिलासपुरकेमाधाशिवमंदिरमेंमनायागयायोगदिवस

बिलासपुर(कांगड़ा):बिलासपुरकेसोशलवर्कग्रुपनेविकासखंडनगरोटासूरियांकेदिशानिर्देशोंकेअनुसारसभीगांववासियोंकेसहयोगसेमाधाशिवमंदिरमेंव्यवहारिकरूपसेयोगदिवसमनायागया।इसकोरोनासंक्रमणकालमेंतोयेयोगरूपीआरोग्यताकाटॉनिकहमसबकेलिएऔरभीआवश्यकहोजाताहै।यहबातआजयहांयोगगुरुमास्टरप्रेमचंदनेयोगकाशुभारंभकरतेहुएबताई।

इसअवसरपरगुरुप्रेमचंदकेसानिध्यमेंकारोनाकीबजहसेकुछसीमितव्यक्तियोंऔरउनकेपरिवारोंनेयोगक्रियाओंमेंहिस्सालिया।इनयोगक्रियाओंमेंरमनधीमान,संजीवशर्मा,बलवंतबैंस,नीरजडोगरा,सुनीलसहोत्रा,ताशुकलेर,सचिनधीमान,रजनीशशर्मा,बुद्धिसिंहचावला,सीताराम,हरदीपसिंह,मखनसिंह,कुकन,इतियादीनेहिस्सालिया।