यूपी में 100 करोड़ की लागत से विकसित होगा गंगा सर्किट, पवित्र स्थलों का पर्यटन की दृष्टि से होगा विकास

लखनऊ[राज्यब्यूरो]।केंद्रसरकारकीस्वदेशदर्शनस्कीमकेतहतउत्तरप्रदेशमेंगंगानदीकेतटपरस्थितपवित्रस्थलोंकोचिन्हितकरतेहुएगंगासर्किटकेरूपमेंएकनएपर्यटनपरिपथकाविकासकियाजानाप्रस्तावितहै।स्पिरिचुअलसर्किटकेतौरपरविकसितकिएजानेवालेइसपर्यटनपरिपथकीअनुमानितलागत100करोड़रुपयेहै।

शुक्रवारकोकेंद्रसरकारकेपर्यटनएवंसंस्कृतिराज्यमंत्री(स्वतंत्रप्रभार)प्रहलादसिंहपटेलऔरप्रदेशकेपर्यटनएवंसंस्कृतिराज्यमंत्री(स्वतंत्रप्रभार)नीलकंठतिवारीद्वारापर्यटनकीकेंद्रपोषितयोजनाओंकीप्रगतिकीसमीक्षाकेदौरानगंगापरिपथकेबारेमेंप्रस्तुतिकरणकियागया।पर्यटननिदेशालयकेसभागारमेंहुईइसबैठकमेंबतायागयानदीकेकिनारेस्थितइनपर्यटनस्थलोंपरवर्षपर्यंतलाखोंकीसंख्यामेंपर्यटकवश्रद्धालुआतेहैं।गंगासर्किटकेविकाससेनकेवलइनपर्यटनस्थलोंकासुनियोजितढंगसेविकासहोसकेगा,बल्किइनक्षेत्रोंमेंजलमार्गकेमाध्यमसेनौकाविहार,वाटरस्पोर्ट्सऔरजलपरिवहनकाभीलाभमिलेगा।

बैठककेबाददोनोंमंत्रियोंनेबतायाकिस्वदेशदर्शनस्कीमकेतहत298.84करोड़रुपयेकीलागतसेअयोध्यामेंनईयोजनाप्रस्तावितकीगईहै।इसमेंसरयूनदीकेकिनारेनौकिलोमीटरघाटोंकानिर्माणवपर्यटकोंकेलिएमूलभूतसुविधाओंकाविकासजैसेकार्यकराएजाएंगे।इसपरियोजनासेअयोध्यामेंआनेवालेतीर्थयात्रियोंकीयात्रासुगमहोसकेगी।

स्वदेशदर्शनस्कीमकीनईयोजनाओंमेंबौद्धसर्किटकेतहतकौशांबीवसंकिसाकापर्यटनविकास,स्पिरिचुअलसर्किटकेअंतर्गतगंगासर्किट,नैमिषारण्यवमिश्रिखकापर्यटनविकास,हेरिटेजसर्किटकेतहतक्रांतिपथ(सन1857),हस्तिनापुर(द्रोपदेश्वर,पांडेश्वरमहादेव,द्रौपदीघाट),ईकोटूरिज्मसर्किटकेतहतमीरजापुर,चुनार,सीतामढ़ी,सोनभद्रतथाबुंदेलखंडसर्किटकापर्यटनविकासप्रस्तावितहै,जिसकीकुलअनुमानितलागत497.99करोड़रुपयेहै।

केंद्रीयमंत्रीप्रहलादसिंहपटेलनेस्वदेशदर्शनस्कीमकीनईयोजनाओंकेप्रस्तावोंकोप्राथमिकताकेआधारपरमंजूरीदिलानेकाआश्वासनदिया।भारतीयपुरातत्वविभागकेअधिकारियोंकोश्रावस्तीकेसंरक्षितधरोहरोंकेबारेमेंसातदिनकेअंदररिपोर्टप्रस्तुतकरनेकानिर्देशभीदिया।उन्होंनेवर्तमानमेंचालूसभीकेंद्रीययोजनाओंकेकार्योंकोनवंबरतकप्राथमिकताकेआधारपरपूराकरानेकानिर्देशदिया।