कृष यंत्र बैंक

जनस्वास्थ्य विभाग ने गोहाना में सिविल रोड, जींद रोड, पुरानी अनाज मंडी और आंबेडकर चौक के आसपास के क्षेत्र में बारिश के पानी की निकासी के लिए कई साल पहले स्ट्राम सिस्टम बनाया था। इसके लिए काफी गहरे बड़े पाइप दबाए गए थे। इस सिस्टम के अच्छे परिणाम सामने आए। जिस क्षेत्र में स्ट्राम सिस्टम बना हुआ है, वहां औसतन बारिश पर जलभराव नहीं होता है। अधिक बारिश होने की स्थिति में तीन से चार घंटे में पानी की निकासी हो जाती है। गोहाना में जींद और बरोदा रोड पर यह सुविधा नहीं है। ऐसे में बारिश होने पर दोनों रोड पर जलभराव हो जाता है और कई घंटे तक पानी की निकासी नहीं होती है। जलभराव से दोनों रोडों और आसपास की कालोनियों के लोगों को परेशान होना पड़ता है। जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने दोनों मार्गों पर स्ट्राम सिस्टम बनाने और निकासी का प्रबंध करने को पंपसेट लगाने के लिए सर्वे करवाया। इसके बाद अनुमानित खर्च आंक कर प्रस्ताव मुख्यालय भेजा गया। विभाग की योजना दोनों मार्गों बड़े पाइप दबा कर उन्हें पंपसेट से जोड़ने की योजना है। पाइप दबाने के बाद उनसे पानी पंपसेट तक पहुंचेगा और पंपसेट से उसे ड्रेन में डाला जाएगा। ----

महबूबा व उनके करीबियों तक पहुंच सकती है जांच

ब‍िहार के पैसे को बाहर नहीं भेजेंगे बैंक, मुज

पीएम केयर्स ठगी मामला: पुलिसिया जांच हुई तेज,

शिकायत वापस न लेने पर पीड़ित को फंसाने की धमकी

गोल्ड लोन में खेल, पूर्व प्रबंधक व आवेदक समेत

व‌र्ल्ड बैंक की तकनीकी टीम ने चयनित स्थलों का

66 चेक और चार बाउचर से निकाली गई रकम

BOB Bank Mitra Fraud Case Update : जोनल ऑफिस

JK Bank Loan Scam : 270 करोड़ रुपये के बैंक ऋ

बैंक से 17 लाख निकलने की जांच शुरू

खातों की जांच कराने के लिए ग्राहकों की उमड़ी भ

आईसीआईसीआई बैंक मामला : दस्तावेजों की जांच के

गहन छानबीन में जालसाज के करीब पहुंचा बैंक प्र

भूमि विकास बैंक किसानों के लिए हितकारी: विजय

जानें- सरकार डीएनए डेटा बैंक क्यों बनाना चाहत

शराब के नशे में बैंक कर्मी समेत दो गिरफ्तार

कैबिनेट मंत्री ने परियोजनाओं का किया वर्चुअल

यस बैंक में हुए 466.51 करोड़ के फ्राड मामले मे

विजिलेंस जांच से घिरी फर्म की 27 करोड़ की संप

फर्जी आइडी पर क्रेडिट कार्ड बनवाकर तीन लाख