amd recruitment 2020 apply online

मुख्यालय में व्यापक स्तर पर मशाल जुलूस की तैयारी को लेकर पिछले एक सप्ताह से कर्मी जुटे हुए थे। बुधवार की सायं को एसोसिएशन से जुड़े कर्मचारी, शिक्षक काफी संख्या में हाथों में मशाल लिए एजेंसी चौक पर एकत्रित हुए। यहां पदोन्नति में आरक्षण समाप्त किए जाने की मांग को लेकर हुंकार भरी गई। वक्ताओं का कहना था कि एसोसिएशन लंबे समय से पदोन्नति में आरक्षण समाप्त किए जाने की मांग सरकार से कर रही है। इसके लिए शांति पूर्वक ढंग से देहरादून में प्रदर्शन भी किया गया लेकिन उनकी मांग पर सरकार चुप्पी साधे हुए है। जिससे एसोसिएशन से जुड़े कर्मचारियों, शिक्षकों में भारी रोष है। दो मार्च से कार्य बहिष्कार की चेतावनी पर अडिग कर्मचारी नेताओं ने कहा कि सरकार ने ऐसे ही उनकी मांग की अनदेखी की तो उन्हें आगे भी आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा। बाद में एसोसिएशन से जुड़े कर्मचारी, शिक्षक हाथों में मशाल लिए जुलूस की शक्ल में नारेबाजी करते हुए एजेंसी चौक से अपर बाजार, धारा रोड़ होते हुए बस स्टेशन पहुंचे। यहां पदोन्नति में आरक्षण के समर्थन में वक्तव्य देने से खफा होकर एसोसिएशन ने राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा का पुतला भी फूंका। इस मौके पर एसोसिएशन के मुख्य संयोजक सीताराम पोखरियाल, अध्यक्ष सोहन सिंह रावत, उपाध्यक्ष जयदीप रावत, कोषाध्यक्ष जसपाल सिंह रावत, रेवती नंदन डंगवाल, संजय नेगी, दीपक नेगी, आरपी गोदियाल, ललित भटट, प्रदीप सजवाण, डीआर नौटियाल, लक्ष्मण सिंह रावत, विक्रम सिंह, कुलदीप सिंह, कमलेश मिश्रा सहित सैंकडों की तादाद में कर्मी शामिल थे।